Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

बावरी मैदान पर हुई रावण दहन की लीला,,, रँगविरंगी आतिशबाजी से जगमग हुआ आसमान

Ravana Dahan leela took place at Bawri Maidan, the sky lit up with colorful fireworks.

(रिपोर्ट – बबलू सेंगर)

Jalaun news today । जालौन नगर के बावरी मैदान पर विजयदशमी के पावन पर्व पर रावण मरण की लीला का मंचन का मंचन हुआ। इसके बाद दशहरा मेला कमेटी द्वारा रावण दहन का कार्यक्रम का आयोजित किया गया। जिसमें रंग बिरंगी आतिशबाजी से पूरा आकाश जगमग हो गया।
दशहरा मेला समिति द्वारा आयोजित रावण-दहन का कार्यक्रम श्रीबाराहीं देवी मेला मैदान में किया गया। जिसमें सर्वप्रथम रामलीला भवन से श्रीराम, लक्ष्मण, हनुमान, सुग्रीव, जामवंत तथा रावण की शोभा यात्रा निकाली गई। जो छोटी माता, बड़ी माता, झंडा चौराहा, बस स्टैंड, तहसील रोड से देवनगर चौराहा व लौना रोड होते हुए श्रीबाराहीं देवी मैदान में पहुंची। जहां दशहरा मेला समिति द्वारा पहले से ही मंच की व्यवस्था की गई थी। मंच पर रावण वध की लीला का मंचन किया गया। जैसे ही प्रभु राम रावण का वध करते हैं तभी रावण का पुतला बनाने वाले कारीगर सलीम खां द्वारा 45 फुट ऊंचे रावण के पुतले को आग लगा दी जाती है। जिसके बाद रावण नाना प्रकार की गर्जना करते हुए धू-धूकर जल उठा। इससे पूर्व कार्यक्रम की अध्यक्षा भाजपा जिलाध्यक्षा उर्विजा दीक्षित व मुख्य अतिथि सदर विधायक गौरीशंकर वर्मा ने कहा कि दशहरा हमें बुराई पर अच्छाई की जीत याद दिलाने आता है। दशहरा हमें बुराई पर अच्छाई की जीत याद दिलाने आता है। भगवान राम ने लंकापति रावण से युद्ध करके संसार को यह संदेश दिया कि बुराई चाहे कितनी भी बड़ी क्यों ना हो, अच्छाई के सामने ज्यादा दिनों तक टिक नहीं सकती। दशहरा के मौके पर हम सब बुराई रूपी रावण को जलाकर भस्म करते हैं, इसे सिर्फ एक रस्म तक सीमित न रखें बल्कि इससे सबक सीखते हुए हम सब भी प्रण कर लें कि हम भी अपनी सारी बुराइयों को त्याग कर, अपने जीवन में सदाचार को अपनाऐंगे। यदि हम अपने अंदर की बुराइयों का त्याग कर सके, तभी हमारा रावण दहन सफल होगा।

पुतला दहन के बाद आतिशबाजी का शानदार प्रदर्शन किया गया। जिसमें तकरीबन एक घंटे चली आकर्षक आतिशबाजी से पूरा आकाश सितारों के समान चमकने लगा। जिसने मैदान पर सैंकड़ों की संख्या में उपस्थित दर्शकों का मन मोह लिया। प्रदूषण मुक्त आतिशबाजी का प्रदर्शन कर पर्यावरण संरक्षण का भी संदेश दिया गया। कार्यक्रम का संचालन राजकुमार मिझौना ने किया। इस मौके पर मुख्य अतिथि पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष राघवेंद्र सिंह गुर्जर, सदर विधायक गौरीशंकर वर्मा, पालिकाध्यक्षा नेहा मित्तल, सतेंद्र खत्री, दशहरा मेला समिति के अध्यक्ष गौरव गुर्जर, रामलीला समिति के अध्यक्ष शशिकांत द्विवेदी, राजीव मोहन मिश्र, डॉ. नितिन मित्तल, अनिल याज्ञिक, वैभव अग्रवाल, विपुल दीक्षित, नीलू अग्रवाल, अनुराग बहरे, विनय माहेश्वरी, मधु सिंहल, निशा माहेश्वरी,, बीनू गुप्ता, जिला पंचायत सदस्य पुष्पेंद्र सिंह सेंगर, दीपू गुर्जर, प्रयाग गुरू, पवन चतुर्वेदी आदि मौजूद रहे। वहीं, सुरक्षा व्यवस्था में एसडीएम सुरेश कुमार, सीओ रविंद्र गौतम, कोतवाल विमलेश कुमार पुलिस फोर्स के साथ मौजूद रहे।

Leave a Comment

What does "money" mean to you?
  • Add your answer