Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

DM auraiya नेहा प्रकाश ने अलग अलग अधिकारियो के साथ बैठक कर दिए जरूरी निर्देश

DM Auraiya Neha Prakash held a meeting with different officials and gave necessary instructions.

जिलाधिकारी ने ’’विकसित भारत संकल्प यात्रा’’के सम्बन्ध में सम्बन्धित अधिकारियों के साथ की बैठक

Auraiya news today । औरैया जनपद की जिलाधिकारी नेहा प्रकाश ने कलेक्ट्रेट स्थित मानस सभागार में ’’विकसित भारत संकल्प यात्रा’’के सम्बन्ध में सम्बन्धित अधिकारियों के साथ बैठक की। बैठक में जिलाधिकारी ने कहा कि विकसित भारत संकल्प यात्रा अभियान 26 जनवरी 2024 तक संचालित किया जा रहा है। विकसित भारत संकल्प यात्रा का उद्देश्य-सरकार द्वारा संचालित जनकल्याणकारी योजनाओं के बारे में आमजन/विशेष कर वंचित लोगों को जागरूक करना,विभिन्न योजनाओं के अन्तर्गत छूटे हुए पात्र लोगों को चिन्हित कर लाभान्वित करना तथा लाभान्वित लाभार्थियों से उनके अनुभव/फीडबैक प्राप्त करना आदि है। भारत सरकार द्वारा उद्देश्य के लिए एक आईटी पोर्टल और एक ऐप विकसित किया गया है, जिस पर यात्रा से सम्बन्धित दैनिक प्रगति, फोटो एवं वीडियो आदि को अपलोड किया जायेगा। यात्रा को रोस्टर/कार्य योजना बनाकर क्रियान्वित किया जाय।
जिलाधिकारी ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र में पात्र लाभार्थियों को आयुष्मान भारत,पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना, दीनदयाल अंत्योदय योजना-राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन, पीएम आवास योजना(ग्रामीण), पीएम उज्ज्वला योजना,पीएम विश्वकर्मा योजना,पीएम किसान सम्मान निधि योजना,किसान क्रेडिट कार्ड, पीएम पोषण अभियान, हर घर जल-जल जीवन मिशन, गॉवों का स्वामित्व,जनधन योजना, जीवन ज्योति बीमा योजना, सुरक्षा बीमा योजना,अटल पेंशन योजना,नैनो उर्वरक का उपयोग एवं पीएम स्वनिधि योजना आदि से कैम्प लगाकर लाभान्वित किया जाय। इसी प्रकार शहरी क्षेत्र में पात्र लाभार्थियों को पीएम स्वनिधि योजना,पीएम विश्वकर्मा योजना, पीएम उज्ज्वला योजना, पीएम मुद्रा लोन योजना, स्टार्टअप इंडिया,आयुष्मान भारत, पीएम आवास योजना (शहरी), स्वच्छ भारत अभियान (शहरी), उजाला योजना एवं पीएम सौभाग्य योजना आदि से कैम्प लगाकर लाभान्वित किया जाय। उन्होंने कहा कि कार्यक्रम को सफलता पूर्वक एवं प्रभावी रूप से सम्पन्न कराने के लिए विभिन्न विभागों के सम्बन्धित अधिकारी आपसी समन्वय बनाकर कार्य करें। उन्होंने कहा कि ग्रामीण संवाद यात्रा की तिथि एवं समय के सम्बन्ध में स्थानीय सहयोग से मुनादी एवं डुग्गी के माध्यम से ग्राम के समस्त आमजन तक जानकारी पहुचायी जाय। घरौनी/स्वामित्व योजना से संतृप्त ग्राम के लेखपाल/राजस्व निरीक्षक को भी पुरस्कृत कर उत्सव का आयोजन किया जाय। लाभार्थी से उसकी जुबानी योजना से लाभ की कहानी का प्रस्तुतीकरण कराया जाय। समस्त सहकारी समितियों द्वारा अभियान चलाकर अधिक से अधिक लोगों को सदस्य बनाया जाय। रासायनिक उर्वरकों के वैकल्पिक उर्वरकों यथा-नैनो यूरिया का प्रचार-प्रसार कराया जाय। ग्राम में सम्बन्धित बैंक का स्टाल लगाकर बैंक के स्टाल के माध्यम से कृषकों की ई-केवाईसी, आधार सीडिंग, के0सी0सी0 एवं अन्य लोन से सम्बन्धित समस्याओं का निस्तारण आदि कार्यक्रम शासनादेशानुसार आयोजित किया जाय। मुख्य विकास अधिकारी अनिल कुमार सिंह ने विकसित भारत संकल्प यात्रा के अन्तर्गत शासनादेशानुसार कार्यक्रम आयोजित किये जाने के लिए अब तक की गई कार्यवाही की जानकारी देते हुए बताया कि जनपद स्तरीय समिति का गठन किया जा चुका है, ग्रामों के कलस्टरवार एवं नगर निकाय के वार्डवार रोस्टर बनाया जा चुका है। कार्यक्रम को सफलतापूर्वक आयोजित कराया जायेगा।
इस अवसर पर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 सुनिल कुमार वर्मा सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारीगण उपस्थित रहे।

विद्युत वसूली को लेकर समीक्षा बैठक में खराब प्रगति पाए जाने पर जिलाधिकारी ने तीन अवर अभियंताओ की प्रगति में सुधार न लाये जाने पर वेतन वृद्धि बाधित करने का दिया निर्देश

जिलाधिकारी ने विद्युत कार्यों की समीक्षा के दौरान दिए संबंधितों को निर्देश

औरैया । जिलाधिकारी नेहा प्रकाश ने कलेक्ट्रेट स्थित मानस सभागार में विद्युत कार्यों की समीक्षा के दौरान संबंधितों को निर्देश दिए कि विद्युत संबंधित सभी व्यवस्थाओं को सुदृढ़ किया जाए जिससे कि उपभोक्ताओं को विद्युत आपूर्ति पूर्ण सुनिश्चित हो सके और अनावश्यक विद्युत कटौती का सामना न करना पड़े। समीक्षा के दौरान विद्युत वसूली को लेकर पिछली समीक्षा बैठक में खराब प्रगति पाए जाने पर अवर अभियंता चपटा के के राठौर, भगौतीपुर अजय कुमार श्रीवास्तव तथा देवरपुर दीपक कुमार राम को प्रतिकूल प्रविष्टि दिए जाने पर भी प्रगति में सुधार न लाये जाने पर एक वेतन वृद्धि बाधित करने के निर्देश अधीक्षण अभियंता विद्युत बृजमोहन को दिए और कहा कि यदि आगामी बैठक में भी सुधार नहीं किया जाता है तो विभागीय कार्रवाई हेतु लिखा जाए। उन्होंने कहा कि सभी संबंधित अपने-अपने क्षेत्र में एक मुफ्त एक समाधान योजना के अंतर्गत लोगों को जानकारी देते हुए राजस्व की वसूली भी करें।
जिलाधिकारी ने कहा कि खराब प्रदर्शन करने वालों पर नियमानुसार कार्यवाही की जाए तथा जिम्मेदारी निर्धारित करते हुए प्रतिदिन की प्रगति रिपोर्ट प्राप्त की जाए। उन्होंने उपस्थित विद्युत विभाग के अधिकारियों /कर्मचारियों को कहा कि शासन की मंसानुरूप कार्य करें जिससे विद्युत उपभोक्ताओं को विद्युत संबंधित परेशानियां न हो और पर्याप्त विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित हो और राजस्व वसूली भी लक्ष्य के अनुरूप हो सके। उन्होंने नये कनेक्शन के संबंध में कहा कि समय से सभी नये उपभोक्ताओं को नये कनेक्शन उपलब्ध कराए जाएं। उन्होंने कहा कि सभी प्रगति रिपोर्ट समय से पोर्टल पर अपलोड की जाए इसमें किसी भी स्तर पर लापरवाही/शिथिलता बर्दाश्त नहीं होगी। विद्युत चोरी की घटनाओं को लेकर जिलाधिकारी ने कहा कि चोरी करने वाले उपभोक्ताओं पर एफआईआर अवश्य दर्ज कराई जाए। उन्होंने विद्युत व्यवस्था के सुदृढ़ीकरण हेतु चलाए जा रहे कार्यों के अंतर्गत नंगे तारों के स्थान पर केबिल डाले जाने, खराब विद्युत पोलों के स्थान पर नए पोल स्थापित करने तथा ट्रांसफार्मर की भार क्षमता बढ़ाने के कार्यों की समीक्षा करते हुए कहा कि संबंधित संस्था अपने कार्य में प्रगति लाये जिससे कि शासन को प्रतिमाह भेजी जाने वाली रिपोर्ट सही व अच्छी प्रगति के साथ प्रस्तुत की जा सके। उन्होंने कहा कि जिन ग्रामीण क्षेत्रों में कार्य कराया जा चुका है वहां पर कराए गए कार्य की लागत सहित एक साइन बोर्ड /फ्लेक्सी लगवाए जिससे आमजन को योजना के संबंध में जानकारी प्राप्त हो सके।
बैठक में अधीक्षण अभियंता विद्युत द्वारा अवगत कराया गया कि माह में 25 करोड़ 99 लाख की राजस्व वसूली की गई तथा 1912 व झटपट पोर्टल पर कोई भी आवेदन लंबित नहीं है। उन्होंने बताया कि विद्युत व्यवस्था के सुदृढ़ीकरण कार्यों के तहत 165 गांवों में कार्य पूर्ण करा लिया गया है।
‌बैठक में अधिशासी अभियंता विद्युत औरैया, अधिशासी अभियंता विद्युत अजीतमल, अवर अभियंता सहित संबंधित अधिकारी आदि उपस्थित रहें।‌

डीएम व एसपी ने जनपद की कानून व्यवस्था दुरुस्त बनाये रखने एवं अभियोजन के कार्यों की बिन्दुवार विस्तार पूर्वक समीक्षा कर दिए जरूरी निर्देश

Auraiya news today । औरैया जनपद की जिलाधिकारी नेहा प्रकाश व पुलिस अधीक्षक चारु निगम ने कलेक्ट्रेट स्थित मानस सभागार में जनपद की कानून व्यवस्था दुरुस्त बनाये रखने एवं अभियोजन के कार्यों की बिन्दुवार विस्तार पूर्वक समीक्षा करते हुए निर्देश दिए कि सभी संबंधित अपनी जिम्मेदारियां को ईमानदारी से निभाएं यदि किसी के विरुद्ध कोई भी शिकायत प्राप्त होती है तो संबंधित के विरुद्ध कठोर कार्यवाही अमल में लाई जाएगी। जिलाधिकारी ने कहा कि किसी भी मामले की पैरवी किसी भी स्तर पर कमजोर नहीं होनी चाहिए जिससे कि अपराधी छूट जाए और निर्दोष को सजा हो समस्त थाना अध्यक्ष अपने-अपने क्षेत्र की शिकायतों को ईमानदारी के साथ निस्तारित कराएं। उन्होंने महिला अपराधों से संबंधित मुकदमों पर प्रभावी ढंग से कार्यवाही करने के निर्देश दिये। उन्होंने सभी उप जिलाधिकारी एवं एसएचओ को निर्देश दिए कि भूमि विवाद मामलों को टीम बनाकर समय से निस्तारण कराना सुनिश्चित करें भूमि विवाद मामलों को गंभीरता से लेते हुए दोनों पक्षों को लिखित आख्या के साथ मामले को शांत कराया जाए । पुलिस अधीक्षक चारू निगम ने सभी थाना, चौकी प्रभारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि दर्ज होने वाली एफ.आई.आर. को निर्धारित समय में कोर्ट में प्रस्तुत किया जाए तथा कोर्ट के द्वारा आने वाले निर्देशों के अनुपालन में समय रहते कार्यवाही पूर्ण कर ली जाए जिससे कि वादों का निस्तारण समय से हो सके।
उक्त के उपरांत जिलाधिकारी नेहा प्रकाश ने मादक पदार्थों के अवैध कारोबार को रोकने के लिए एनसीओआरडी की जिला स्तरीय समिति में कार्यों की समीक्षा करते हुए निर्देशित किया कि सभी संबंधित अधिकारी आपसी समन्वय के साथ कार्य करते हुए मादक पदार्थ के अवैध कारोबार पर अंकुश लगाए।
बैठक में अपर जिलाधिकारी (वि०/रा०) महेंद्र पाल सिंह, अपर पुलिस अधीक्षक दिगंबर कुशवाहा, उप जिलाधिकारी सदर अखिलेश कुमार, उप जिलाधिकारी अजीतमल राकेश कुमार, उप जिलाधिकारी बिधूना निशांत तिवारी सहित संबंधित अधिकारी व क्षेत्राधिकारी पुलिस एवं थाना प्रभारी आदि उपस्थित रहे।

Leave a Comment

What does "money" mean to you?
  • Add your answer