Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

आचार संहिता का असर सरकारी कार्यालयों में लगी राजनेताओं की तस्वीरों को हटाया जाए, सिर्फ राष्ट्रपति और राज्यपाल की लगी रहे तस्वीर

Effect of code of conduct: Photographs of politicians should be removed from government offices, only photographs of the President and Governor should remain.

Lucknow news today । लोकसभा चुनाव को लेकर देश में लागू हुई आचार संहिता का असर अब उत्तर प्रदेश में भी दिखने लगा है । निर्वाचन आयोग के निर्देश पर बीते कल हटाए गए सचिव गृह के बाद अब एक और असर देखने को मिला है जहां पर आज शासन ने यह निर्देश जारी किए हैं कि सरकारी कार्यालय में किसी भी राजनेता की तस्वीर को नहीं लगाया जाएगा जो भी तस्वीर लगी है उन सबको हटाया जाएगा। इस बात के निर्देश सचिवालय प्रशासन विभाग ने जारी कर दिए हैं।
उल्लेखनीय है कि आचार संहिता लागू होने के बाद निर्वाचन आयोग ने बीते कल उत्तर प्रदेश समेत 6 राज्यों के सचिव ग्रहों को हटाने के निर्देश जारी किए थे। आज शासन ने एक नया निर्देश जारी किया है। सचिवालय प्रशासन विभाग द्वारा जारी किए गए निर्देशों में कहा गया है कि सरकारी कार्यालय में जो भी राजनेताओं की तस्वीर लगी है उन सबको हटा दिया जाए। सिर्फ राष्ट्रपति और राज्यपाल की तस्वीरों को लगाए रखे बाकी सभी राजनेताओं की तस्वीरों को हटाया जाए।

अपर मुख्य सचिव ने जारी किए ये निर्देश

सरकारी कार्यालय से राजनेताओं की तस्वीर हटाने के संबंध में अपर मुख्य सचिव जितेंद्र कुमार ने निर्देश जारी किए हैं। जारी किए निर्देशों में उन्होंने कहा कि भारत निर्वाचन आयोग द्वारा लोकसभा सामान्य निर्वाचन 2024 की प्रक्रिया प्रारंभ करते हुए दिनांक 16 मार्च से आचार संहिता प्रभावी है। आदर्श आचार संहिता प्रभावी रहने निर्वाचन अवधि में समस्त शासकीय कार्यालय में राष्ट्रपति एवं राज्यपाल की तस्वीर के अतिरिक्त अन्य समस्त राजनेताओं की तस्वीर हटाई जानी है। इस संबंध में मुझे यह कहने का निर्देश प्राप्त हुआ है कि आदर्श आचार संहिता प्रभावी रहने निर्वाचन अवधि में समझ शासकीय कार्यालय से राष्ट्रपति एवं राज्यपाल की तस्वीर के अतिरिक्त अन्य समस्त राजनेताओं की तस्वीर हटवाने का कष्ट करें।

जारी निर्देश

रंगों के पर्व होली के विज्ञापन पर विशेष छूट सम्पर्क : 9415795867,

Leave a Comment