Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

जालौन नगर के इस विद्यालय में मनाया गया वार्षिकोत्सव,, बच्चों ने किए सांस्कृतिक कार्यक्रम

Jalaun news today । जालौन नगर में एमएल कन्वेंट स्कूल के 4 म ई 2024 शनिवार को 15 वर्ष पूर्ण होने पर वार्षिकोत्सव मनाया गया।जिसमे बच्चों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित कर खुशी मनाई।
इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि राजेश चंदेल पूर्व राष्ट्रीय वॉलीबॉल खिलाड़ी व प्रवक्ता शारीरिक शिक्षा जखा, विशिष्ट अतिथियों में डॉक्टर संजीव गुप्ता सीएमएस मेडिकल कॉलेज, सुनील यादव पूर्व एनसीसी ऑफिसर 58 बटालियन, अलीम सर सामाजिक कार्यकर्ता उरई, एडवोकेट अजीज अहमद, सुशील बाजपेई,संतोष पोरवाल,संजय गुप्ता सामाजिक कार्यकर्ता उरई, संतोष सेंगर प्राचार्य विवेकानंद कॉलेज,भारत विकास परिषद अध्यक्ष पवन अग्रवाल  अरविंद श्रीवास्तव, डॉ सुनील दोहरे, प्रेम कुमार,  सुशील श्रीवास्तव अध्यापक,अरुण निरंजन सहित नगर के अन्य सम्मानित गणमान्य वा अभिभावक भी उपस्थित रहे।
सभी अतिथियों का सम्मान विद्यालय के कार्यक्रम संयोजक सुनील त्रिपाठी ने किया और स्केटिंग गर्ल जालौन के नाम से मशहूर अनन्या स्केटिंग करते हुए अतिथियों को पुष्पों का उपहार देकर एवं तिलक लगाकर स्वागत किया इस पर मुख्य अतिथि ने अनन्या को अपने गोद में उठाकर उसको आशीर्वाद दिया।
दीप प्रज्वलन के साथ अतिथियों के स्वागत गीत का प्रस्तुतीकरण किया गया। तत्पश्चात प्री प्राइमरी से लेकर सीनियर सेकेंडरी तक के बच्चों को सर्वाधिक अंक ,उत्कृष्ट लेखन , व्योमिका स्पेस लैब वर्कशॉप, क्रिएटिव और स्मार्ट छात्र के लिए और सर्वाधिक उपस्थिति के लिए भी अलग-अलग कैटेगरी में प्रमाण पत्र, मेडल व ट्रॉफी का वितरण एकेडमिक इंचार्ज  शालिनी गुप्ता और उपस्थित अतिथियों के द्वारा स्टूडेंट्स को किया गया। विद्यालय के छात्र देव, हायरा, सिद्धांत, पार्थ, प्रगति,संस्कृति,लकी,अनुष्का, सौम्या, यश, आस्था, गौरी, अवनी अनुष्का अन्य छात्रों ने इन विभिन्न श्रेणियां में पुरस्कारों को जीता। इस मौके पर बच्चों को उनके माता-पिता के साथ सम्मानित किया गया यह पल उनके माता-पिता के लिए गौरवान्वित करने वाला था। कार्यक्रम के संचालक अध्यापक प्रदीप गुप्ता व अवधेश ने अनुपस्थित बच्चों के स्थान पर उनके छोटे भाई और बहनों को उनका पुरस्कार प्रदान कराया। इंचार्ज एग्जामिनेशन राम प्रताप सर ने बताया कि जब बड़े भाई/बहन ने अपने छोटे भाई/बहिन का पुरस्कार लिया तो यह पल उनके लिए यादगार बन गया क्योंकि आज छोटों के कार्य से बड़ों के हाथ में सम्मान मिला था। कार्यक्रम के अध्यक्ष अध्यापक अनुराग सर ने इसके बाद सांस्कृतिक कार्यक्रमों को प्रारंभ कराया। सबसे पहले प्री प्राइमरी विंग के कोऑर्डिनेटर गोपाल सर ने अपने बच्चों की प्रस्तुति कराई जिसमें कोला कोला डांस करके बच्चों ने सभी अतिथियों का और अलवर को का मन मोह लिया। तत्पश्चात प्राइमरी विंग कोऑर्डिनेटर खुशबू मैडम ने अपने बच्चों को इंट्रोड्यूस कराया और उन्होंने पुष्पा डांस की प्रस्तुति कराई, बच्चों के रोग और अकड़ से भरे डांस को देखकर दर्शकों ने खूब तालियां बजाई। इसके बाद विद्यालय के ताइक्वांडो ट्रेनर रितेश के द्वारा बच्चों ने मार्शल आर्ट और ताइक्वांडो का प्रजेंटेशन किया। आग से जलती हुई टाइल्स और मार्बल कक्षा 5 के छात्र अंश, राज ने एक ही झटके में हाथ से तोड़ डाला जिसे देखकर चारों ओर तालिया की गडगराहट से पूरा ग्राउंड भर गया। आगे बढ़ते हुए डांस ट्रेनर अभिषेक रोज जो तमिलनाडु से हैं उन्होंने सीनियर क्लास के बच्चों की एक शानदार प्रस्तुति “मेमे” जो कि अपने देश के वीर जवान और शहीदों को समर्पित थी एक में यानी कि बिना बोले हुए किए गए एक नाटक के माध्यम से प्रस्तुत किया जिसमें डांस और एक्टिंग दोनों शामिल थी । इस प्रस्तुति ने वहां उपस्थित सभी दर्शकों की आंखों में आंसू ला दिए। गर्मी में जहां अच्छे अच्छों का साहस जवाब दे जाता है बच्चों का उत्साह और कौतूहल देखने योग्य था। बलबीर सर, शिवांगी मैडम और विद्यालय के अन्य अध्यापक बच्चों को चिप्स,आइसक्रीम,चॉकलेट और ग्लूकोन-डी लगातार बांट रहे थे जिससे कि बच्चों को किसी प्रकार की उत्साह में कमी ना सके।
जहां एक और छात्र अपने परिस्थितियों से माहौल में जोश भर रहे थे वहीं दूसरी तरफ विद्यालय टीम के अन्य सदस्य के के सर, श्यामानंद त्रिपाठी जी, सगीर खान सर और व्हीकल कोऑर्डिनेटर हेमंत सर वहां उपस्थित मेहमानों और अतिथियों के स्वागत सत्कार की व्यवस्था पूर्ण रूप से निभा रहे थे। इसी बीच प्रदीप सर ने मैटर शिवानी मैं और खुशबू मैं के द्वारा क्रमशः घोस्ट डांस और स्किट यानी कि ड्रामा जिसमें गर्ल्स एजुकेशन का एक सोशल मैसेज दिया गया।अतिथियों ने इन 15 वर्षों में विद्यालय से जुड़े हुए अपने अनुभवों को साझा किया।
पहले वर्ष से लेकर इन 15 तक विद्यालय के सबसे सीनियर और जिम्मेदार सदस्य श्यामानंद त्रिपाठी जी ने कार्यक्रम के अंत में अपने 15 वर्षों की विद्यालय की यात्रा का वर्णन किया। कार्यक्रम के अंत में विद्यालय के प्रबंध निदेशक गौरव गुप्ता ने सभी अतिथियों का स्मृति चिन्ह देखकर सम्मानित किया और भविष्य की कार्य योजनाओं के बारे में बताया बताया कि कैसे आने वाले दिनों में विद्यालय के चयनित बच्चों इसरो इस अहमदाबाद स्पेस सेंटर की विकसित करने जा रहे हैं और इसके साथ-साथ आने वाले ग्रीष्मकालीन अवकाश में स्केटिंग कंप्यूटर ट्रेनिंग ताइक्वांडो बैडमिंटन पेंटिंग आदि का समर कैंप विद्यालय लगाएगा।
इसके साथ ही विद्यालय जिले की पहली इंग्लिश लैंग्वेज लैब लैब बच्चों की कम्युनिकेशन और स्पीकिंग सुधारने के लिए निशुल्क लगाई जा रही है और आगे भी ऐसे ही कई और निरंतर प्रयास चलते रहेंगे।

Leave a Comment