Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

यूपी के इस जनपद में हुआ एंटी रायट ड्रिल,,एसएसपी ने अपने अधीनस्थों को सिखाये दंगा नियंत्रण के गुड़

(रिपोर्ट – विजय सैनी)

मुजफ्फरनगर। उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर जनपद की पुलिस लाइन में कानून एवं शान्ति व्यवस्था सुदृढ़ रखने हेतु तथा किसी भी अकस्मात स्थिति से निपटने के लिए पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों ने अपने अधीनस्थों को हथियारों को कुशलता पूर्वक चलाने का अभ्यास कराया।


हमारे स्थानीय सहयोगी के अनुसार पुलिस अधीक्षक मुजफ्फरनगर के नेतृत्व में पुलिस लाइन में फोर्स को एन्टी रायट इक्विपमैन्ट्स के सम्बन्ध में आवश्यक दिशानिर्देश देते हुए किया गया दंगा नियंत्रण अभ्यास (एंटी रायट ड्रिल)आज जनपद में कानून एवं शान्ति व्यवस्था के दृष्टिगत वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मुजफ्फरनगर विनीत जायसवाल के नेतृत्व में पुलिस लाइन स्थित ग्राउंड में पुलिस फोर्स को दंगा नियंत्रण अभ्यास कराया गया । इस दौरान पुलिस अधीक्षक नगर अर्पित विजयवर्गीय, पुलिस अधीक्षक देहात अतुल कुमार श्रीवास्तव, पुलिस अधीक्षक अपराध प्रशान्त कुमार प्रसाद, पुलिस अधीक्षक यातायात कुलदीप सिंह, सहायक पुलिस अधीक्षक आयुष विक्रम सिंह, समस्त क्षेत्राधिकारीगण, प्रतिसार निरीक्षक पुलिस लाइन मुहम्मद नदीम एवं जनपद की समस्त थाना,शाखा प्रभारी, अग्निशमन विभाग सहित अन्य पुलिस अधिकारी,कर्मचारीगण उपस्थित रहे ।


वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मुजफ्फरनगर के निर्देशन में प्रतिसार निरीक्षक पुलिस लाइन मुहम्मद नदीम द्वारा मौजूद फोर्स को एन्टी रायट ड्रिल के सम्बन्ध में बताया एवं इस दौरान प्रयोग किये जाने वाले दंगा नियंत्रण उपकरणों की जानकारी दी गयी ।


अभ्यास से पूर्व वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मुजफ्फरनगर द्वारा फोर्स को ब्रीफ करते हुए बताया कि भीड़ के आकस्मिक एकत्रित होने अथवा किसी घटना विशेष के होने से उत्पन्न हुए रोष से लोगों के अवैधानिक रूप से एकत्रित होने तथा बलवा करने से उत्पन्न हुई स्थिति को नियन्त्रित करने तथा बलवाईयों को तितर-बितर करने के लिए एन्टी रायट ड्रिल का फोर्स द्वारा प्रयोग किया जाता है, जिससे कि कानून व्यवस्था की स्थिति बनी रहे। त्यौहारों के दौरान ऐसी स्थिति उत्पन्न हो सकती है जहां छोटी सी भी घटना बड़ा रूप ले सकती है, जिसके लिए तैयारियां बहुत अधिक महत्वपूर्ण है ।

Download our app : uttampukarnews

सभी अधिकारी एवं कर्मचारी ऐसी स्थिति के दौरान ड्यूटी में दंगा निरोधी उपकरणों से लैस होकर रहेगें ताकि यदि कोई असामाजिक तत्व सौहार्द एवं शान्ति व्यवस्था को प्रभावित करने का प्रयास करता है तो पुलिस की तैयारियों के मद्देनजर उसका प्रयास विफल हो और स्थिति सामान्य रहे। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक विनीत जायसवाल द्वारा सभी को विभिन्न एन्टी रायट इक्विपमैन्ट्स के बारे में विस्तार से जानकारी दी गयी तथा ड्रिल का अभ्यास किये जाने से पूर्व स्वयं के द्वारा उपकरणों का डैमो दिया गया तथा ड्रोन कैमरे का उपयोग कर ड्रोन कैमरे के माध्यम से निगरानी रखने का अभ्यास कराया गया । साथ ही अग्निशमन विभाग के अधिकारियों द्वारा ड्रिल में मौजूद पुलिस बल को आपात स्थिति में आग पर काबू पाने और खुद का बचाव करने के तरीके बताए गये।

Subscribe on YouTube : up news sirf sach

Leave a Comment