Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

डीएम जालौन ने किया जिला अस्पताल में औचक निरीक्षण,, इन पर दिए कार्यवाही के निर्देश,, परखी व्यवस्थाएं

DM Jalaun conducted surprise inspection in the district hospital, gave instructions for action, tested arrangements

डी फामार्सिस्ट द्वारा मरीज के पर्चे पर बाहर की दवा लिखने पर जिलाधिकारी ने सीएमएस को फटकार लगाई फामार्सिस्ट की तत्काल सेवाएं समाप्त के दिए निर्देश

(ब्यूरो रिपोर्ट)

Orai / jalaun news today ।जालौन जनपद के जिलाधिकारी राजेश कुमार पांडे ने बुधवार को जिला अस्पताल में ओपीडी, इमरजेंसी व वार्डो का बारीकी से औचक निरीक्षण,किया। इस अवसर पर उन्होंने अस्पताल में मौजूद मरीजों व तीमारदारों से वार्ता कर वहाँ की व्यवस्थाएं परखी । बताया जा रहा है कि डीएम के निरीक्षण के दौरान नाक, कान, गला चिकित्सक वीपी सिंह अनुपस्थित मिले इस पर उन्हें स्पष्टीकरण के निर्देश दिए। वार्डो में सफाई व्यवस्था के उचित प्रबंध न होने पर सफाई प्रभारी का स्पष्टीकरण, मौजूद सुपरवाइजर को जमकर फटकार लगाई साथ ही संबंधित ठेकेदार को नोटिस देकर कार्यवाही करने के निर्देश दिए।

उन्होंने सीएमएस एवं सीएमओ को निर्देशित किया कि पूरे परिसर में साफ सफाई की बेहतर व्यवस्था सुनिश्चित कराई जाए। ट्रेनिंग ले रहा डी फामार्सिस्ट ने मरीज के पर्चे पर बाहर की दवा लिखी, जिस पर जिलाधिकारी ने सीएमएस को फटकार लगाई और निर्देशित किया कि डी फामार्सिस्ट की तत्काल सेवाएं समाप्त की जाए, ऐसे कामिर्कों के विरुद्ध सख्त कारर्वाई अमल में लाई जाए। उन्होंने निर्देशित किया कि किसी भी चिकित्सक द्वारा मरीज को बाहर से दवा की पर्ची न लिखी जाए, शिकायत मिलने पर संबंधित चिकित्सक के विरुद्ध कठोर कारर्वाई की जाएगी। जिलाधिकारी ने पर्चा बनवाने के लिए लगे लाइन में मरीजों से मिले और सुविधाओं के बारे में जानकारी ली। पर्चा बनाने वाले कर्मचारियों से बातचीत कर जानकारी लेने के बाद इमरजेंसी सहित अन्य वार्डो में पहुंचे जहां भर्ती मरीजों से उनका हालचाल जानते हुए उनके तीमारदारों से भी बातचीत किए।

उन्होंने अल्ट्रासाउंड मशीन शिफ्ट कराये जाने हेतु निदेर्शित किया जिससे आने वाले मरीजों को इधर-उधर भटकना न पड़े और जिला अस्पताल में ही अल्ट्रासाउंड की बेहतर सुविधा मिल सके। उन्होंने सीएमएस को निर्देशित किया कि फिजियोथैरेपी वार्ड में सीसीटीवी कैमरा लगवाया जाए। आयुष्मान हेल्प डेस्क को बेहतर तरीके से स्थापित की जाए जिससे जन सुविधाओं का लाभाथिर्यों को आसानी से लाभ मिल सके। सायकेट्री नर्स के कक्ष में नेम प्लेट न होने पर नाराजगी जाहिर करते हुए त्वरित नाम प्लेट लगाने के निर्देश दिए। उन्होंने ओपीडी के सामने पीने का पानी का वाटर कूलर खराब होने पर मुख्य चिकित्सा अधीक्षक को निर्देशित किया के वाटर कूलर सही कर शुद्ध पेयजल की व्यवस्था करना सुनिश्चित करें। इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर नरेंद्र देव शर्मा, सीएमएस आदि चिकित्सक सहित अधिकारी मौजूद रहे।

Leave a Comment