Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने प्रेस कांफ्रेंस कर किया भाजपा पर प्रहार, कही यह बड़ी बात

जितनी ऊँचाई पर जाकर कटती है पतंग उतना ही बड़ा होता है उसका पतन

( रिपोर्ट – सरफुद्दीन)

Akhilesh yadav press conference : समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सोमवार को राजधानी लखनऊ में स्थित पार्टी मुख्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए भाजपा सरकार पर करारा प्रहार किया। उन्होंने कहा कि सामाजिक रूप से भाजपा ने देश में सौहार्द बिगाड़ा व भाईचारा खत्म किया, जाति के खिलाफ जाति; सम्प्रदाय के खिलाफ सम्प्रदाय लड़वाए; संविधान द्वारा दिये गये आरक्षण को साज़िशन ख़त्म करने के लिए बेरोजगारों से छल किया, पेपर लीक कराए; देश के लिए आगे बढ़‌कर लड़ने वालों की बहन-बेटियों के लिए जानबूझकर अपने मंत्रियों से अपशब्द कहलवाए, महिलाओं के प्रति अपराध बढ़ाए, मणिपुर, हाथरस, महिला पहलवान। श्री यादव ने कहा कि पिछड़े, दलित, अल्पसंख्यक व आदिवासियों पर अत्याचार और सबसे ख़राब व्यवहार किये जाने की रिकॉर्ड बना।

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने प्रेस कांफ्रेंस कर किया भाजपा पर प्रहार, कही यह बड़ी बात—क्या कहा पूरी प्रेस कॉन्फ्रेंस

Like & subscribe & share & comment

उन्होंने कहा कि आर्थिक रूप से इलेक्टोरल बाण्ड का ऐतिहासिक भ्रष्टाचार किया, इलेक्टोरल बाण्ड के माध्यम से पैसा कमाने के लिए मुनाफाखोरी को बढ़ावा दिया जिसने महंगाई को बढ़ाया। अपने फ़ायदे के लिए भाजपा ने जनता पर बेतहाशा महंगाई थोप दी। नोटबंदी से व्यापार-कारोबार चौपट कर दिया। भ्रष्ट जीएसटी से छोटे दुकानदार तक को मंदी का शिकार बना दिया। किसानों की ज़मीन हड़पनी चाही, काले-कानून लाने चाहे, खाद की बोरी की चोरी की, लाभकारी मूल्य नहीं दिया। श्री यादव ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि भाजपा ने 45 सालों की सबसे बड़ी बेरोज़गारी में देश को धकेला महँगाई से गरीब को और गरीब बना दिया अमीरों के अरबों के लोन माफ़ किये लेकिन किसानों को ऋण के लिए आत्महत्या के लिए मजबूर किया। ब्याज की दरें घटाकर मध्यम वर्ग की बचत को बेकार कर दिया, बैंकों में तरह-तरह के चार्ज और पेनल्टी से लोगों के खाते दीमक की तरह अंदर-ही-अंदर खा गये… बैंक लॉकरों के नाम पर ज़िम्मेदारी से पल्ला झाड़ लिया।
उन्होंने कहा कि भाजपा के लोग नैतिक रूप से चंदे तक का पैसा खा गये, केयर फंड के नाम के आगे पीएम के नाम का इस्तेमाल करके बाद में हिसाब देने से मना कर दिया, अपराधियों को शामिल करके उनके कुकृत्यों पर परदा डाला। जैसे मणिपुर में अपने संगी-साथियों द्वारा बेटी के साथ अमानवीय व्यवहार में, BHU छात्ता अभद्रता कांड में, खीरी किसान हत्या कांड में, हाथरस की बेटी के बलात्कार-हत्या व कानपुर देहात कांड में जहां माँ-बेटी को झोपड़ी में जिंदा जलाकर मार डाला ऐसे अनगिनत उदाहरण

श्री यादव ने कहा कि शारीरिक रूप से देखें तो भाजपा लोगों के शरीर-स्वास्थ्य से भी खिलवाड़ की दोषी है। भाजपा ने बिना जाँचे परखे जानलेवा वैक्सीन लगवाई, कमीशन खाकर गलत दवाई को पास करके लोगों का जीवन ख़तरे में डाला। इसका सीधा असर जनता की सेहत पर पड़ेगा और आनेवाली पीढ़ियों की तंदुरुस्ती पर भी। भाजपा पीढ़ियों पर प्रहार की दोषी है। उन्होंने कहा कि मनोवैज्ञानिक रूप से लोगों के दिल-ओ-दिमाग में जानलेवा वैक्सीन लगने के बाद बीमार होने का डर बैठा दिया। महिलाओं के अंदर असुरक्षा का भाव घर कर गया। युवा unemployment या underemployment से Depression का शिकार हुए। मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा कि राजनीतिक रूप से चंडीगढ़ के मेयर चुनाव में कैमरे के सामने धाँधली की, चुनी हुई सरकारें गिराई, ख़रीद-फरोख्त की नकारात्मक सियासत को जायज़ ठहराया। पारिवारिक रूप से राजनीतिक फ़ायदे के लिए परिवारों को लड़वा दिया।

Leave a Comment