Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

बोरवेल में गिरा मासूम,, प्रशासन बना फरिश्ता,, कड़ी मशक्कत के बाद प्रशासन ने सकुशल निकाला,,

(रिपोर्ट – निशांक शर्मा )

हापुड़। उत्तर प्रदेश के हापुड़ जनपद में नगर पालिका की लापरवाही व प्रशासन की सक्रियता के चलते एक छह वर्षीय बच्चे की जिंदगी बच गई। यह मामला है दिल्ली से सटे जनपद हापुड़ में नगर पालिका की लापरवाही ने एक मासूम बच्चे की जिंदगी को मौत के दोराहे पर ले जा कर खड़ा कर दिया । जहां एक 6 वर्षीय मासूम बच्चा खेलते समय नगरपालिका की सरकारी ट्यूबवेल के पुराने बोरवेल में जा गिरा । बताया जा रहा है कि बोरवेल की गहराई करीब 40 से 50 फुट बताई जा रही है ।

बोरवेल में गिरा मासूम

इस घटना की सूचना लगते ही स्थानीय पुलिस व प्रशासन की टीम मौके पर पहुँची और बोरवेल में गिरे बच्चे को सुरक्षित रेस्क्यू ऑपरेशन चलाने के लिए एनडीआरएफ की टीम भी गाजियाबाद से हापुड़ पहुंच गई जिसने इस 6 साल के बच्चे का रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू कर दिया। और कड़ी मशक्कत के बाद बच्चे को सकुशल बाहर निकाल लिया गया।

रेस्क्यू करती प्रशासन की टीम

यह था मामला

हापुड़ के थाना देहात क्षेत्र के मोहल्ला फूलगढी में नगरपालिका के सरकारी ट्यूबवेल का एक पुराना बोरवेल खुला हुआ था। जहां आसपास बच्चे खेल रहे थे। तभी 6 वर्षीय मासूम मवियांन अचानक बोरवेल में फिसल कर गिर गया । इस हादसे की सूचना लगते ही लोगों की भारी भीड़ मौके पर इकट्ठा हो गई ,तो वही परिजन भी अपने बच्चे की सुरक्षित रेस्क्यू को लेकर परेशान रहे ।

कड़ी मशक्कत के बाद बाहर निकला मासूम
Subscribe on YouTube : up news sirf sach

सूचना पर पहुंचे स्थानीय पुलिस व प्रशासन के अधिकारियों के साथ एनडीआरएफ की टीम भी रेस्क्यू ऑपरेशन में जुटी गई। यह मासूम बच्चा करीब 40 से 50 फुट गहरे बोरवेल में करीब 4 घंटों तक फसा रहा। फिलहाल बच्चे को सुरक्षित रेस्क्यू कर लिया गया है बोरवेल की गहराई के चलते बच्चे को ऑक्सीजन सिलेंडर के माध्यम से ऑक्सीजन सप्लाई भी की गई जिससे बच्चे को बोरवेल की गहराई में सांस लेने में परेशानी न हो।
जिला अधिकारी मेधा रूपम की निगरानी में मौके पर रेस्क्यू ऑपरेशन सफलता पूर्वक पूरा कर लिया गया है।

Leave a Comment