Search
Close this search box.
Search
Close this search box.

उत्तर प्रदेश : साल के पहले तीन दिन के भीतर तीन बदमाश ढेर

दस से अधिक इनामी बदमाश गिरफ्तार

(रिपोर्ट – संजय सिंह )

लखनऊ। आंग्ल नव वर्ष की शुरूआत होते ही पुलिस ने अपने मंसूबे को जाहिर कर दिया है कि उप्र में अपराधियों की खैर नहीं है। जनवरी माह के तीन दिन के भीतर पुलिस ने तीन बदमाशों को मुठभेड़ में मार गिराया है। 10 से अधिक इनामी बदमाशों को गिरफ्तार किया है।
साल 2022 में एटीएस, एसटीएफ और प्रदेश पुलिस ने एक टीम की तरह कार्य करते हुए माफियाओं, इनामी बदमाशों और संगठित अपराधियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई कर कानून का राज स्थापित किया है। सरकार के जीरों टॉलरेंस की नीति को अपनाते हुए इस साल भी यूपी पुलिस ने अपराधियों के खिलाफ मोर्चा खोल रखा है।

एक जनवरी को एक लाख के इनामी को मार गिराया
जनपद गौतमबुद्धनगर में यूपी एसटीएफ और बिसरख थाना की पुलिस टीम ने सयुंक्त कार्रवाई करते हुए एक लाख रुपये के इनामी बदमाश कपिल को मार गिराया था। वह योगेश भदौड़ा गैंग का शार्प शूटर था। उसने जनपद बागपत में दोहरे हत्याकांड की वारदात को अंजाम दिया था। पुलिस को उसकी काफी समय से तलाश थी।

दो जनवरी को बुलदंशहर में दो मुठभेड़ मारे गए दो बदमाश
गौतमबुद्धनगर के बाद जनपद बुलंदशहर में दो अलग-अलग थाना क्षेत्र में हुए मुठभेड़ में दो बदमाश ढेर किए गए। पहली वारदात पहासू थाना क्षेत्र में पलड़ाझाल के पास चेकिंग के दौरान मोटर साइकिल सवार बदमाशों से मुठभेड़ हो गई। इस दौरान पुलिस की गोली से पच्चीस हजार इनामी अब्दुल घायल हो गया। उसे इलाज के लिए

अस्पताल पहुंचाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इसी तरह कोतवाली नगर थाना क्षेत्र स्थित पुलिया के पास चेकिंग के दौरान मोटर साइकिल सवार बदमाशों से पुलिस की मुठभेड़ हो गई। इस कार्रवाई एक दारोगा सिपाही और बदमाश आशीष घायल हो गया। घायलों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इलाज के दौरान चिकित्सकों ने आशीष को मृत घोषित कर दिया।

गिरफ्तार किए गए इनामी बदमाश

उप्र पुलिस ने अलग-अलग जिलों में कार्रवाई करते हुए इनामी बदमाशों को गिरफ्तार किया है। इस दौरान गाजियाबाद, लखनऊ, बरेली, मुजफ्फरनगर जिले से 25-25 हजार के इनामी बदमाशों को दबोचा है। इसी तरह एसटीएफ ने हरियाणा से 25-25 हजार के दो बदमाशों को हरियाणा से गिरफ्तार किया है। ये दोनों अवैध शराब की तस्क्री में लिप्त थे। इनके अलावा जनपद संभल से 10 हजार, गौतमबुद्धनगर से 15, लखनऊ से 15, मुजफ्फरनगर से 15 और पीलीभीत जिले से 10 हजार रुपये के इनामी बदमाशों की गिरफ्तारी की गई है।

एडीजी कानून व्यवस्था ने कही ये बात

अपर पुलिस महानिदेशक कानून एवं व्यवस्था प्रशांत कुमार का कहना है कि प्रदेश सरकार के जीरो टॉलरेंस नीति के तहत अपराधियों पर लगातार कार्रवाई की जा रही है। वांछित और वारंटियों के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है, जो आगे भी प्रचलित रहेगी।

Leave a Comment